Paavan Logo
ब्रह्म मुहूर्त - Brahma muhurta benefits
Share on whatsapp
Share on facebook
Share on telegram
Share on linkedin
Share on twitter

ब्रह्म मुहूर्त की सम्पूर्ण जानकारी – अर्थ, समय, महत्व और फायदे

दोस्तों जब भी आप देर से उठते होंगे तब आपके घर के सभी बुजुर्ग आपसे कहते होंगे कि सुबह जल्दी उठा करो। पढने वाले बच्चो को खास तौर पर ये सलाह दी जाती है कि सुबह ब्रह्म मुहूर्त मंक उठो और पढ़ाई करो क्योकि ऐसा माना जाता है इस वक्त पढाई करने से जो भी पढ़ते हैं वो अच्छे से याद होता है और पढ़ी गयी सभी बाते हमेशा याद रहती हैं। ब्रह्म मुहूर्त के फायदे (brahma muhurta benefits) के बारे में हमारे शास्त्रों और धार्मिक ग्रंथो में भी बताया गया है। हमारे प्राचीन ग्रंथो में ब्रह्म मुहूर्त का महत्व, समय और ब्रह्म मुहूर्त में उठने के फायदे के बारे में विस्तार में चर्चा की गयी है।

आपने एक अंग्रेजी कहावत सुनी होगी “Early to bed and early to rise, is the way to be healthy, wealthy and wise.” बड़े सफल नेता जैसे मोदी जी और कई सफल बिज़नसमैन, अभिनेता, साधू संत यही फार्मूला अपनाते हैं। सभी रात को जल्दी सोते हैं और सुबह जल्दी उठकर अपने कार्यो में लग जाते हैं। ये बात ये भी सही है कि सुबह जल्दी उठने से दिन भर में कार्य करने के लिए बहुत समय मिलता है। इसलिए जो जल्दी उठते हैं वो समय पर आसानी से अपना काम ख़तम कर लेते हैं और जो देर से उठते हैं वो कभी अपने सभी काम आराम से पूरे नही कर पाते, वो हमेशा जल्दी में ही रहते हैं।

आइये इस पोस्ट में हम ब्रह्मा मुहूर्त और brahma muhurta benefits से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करेंगे। अंत तक जरूर पढ़ें।

 

ब्रह्म मुहूर्त क्या है? What is Brahma Muhurta?

ब्रह्म मुहूर्त अर्थात रात का अंतिम पहर। ब्रह्म शब्द का अर्थ है ईश्वर और मुहूर्त शब्द का अर्थ है उत्तम समय, यानी ये वो समय जिस समय आप जागकर ईश्वर से जुड़ सकते हैं। हमारे सभी धर्म ग्रंथो में इस समय को विशेष हितकर बताया गया है। ऋषि मुनियों के अनुसार ब्रह्म मुहूर्त नींद से जागने के लिए उत्तम समय है। सिख समाज में ब्रह्म मुहूर्त को अमृत वेला कहते हैं। इस समय सम्पूर्ण प्रकृति भी जाग जाती है। पशु पक्षी चहचहाने लगती हैं, मोर बांग देता है, सूरजमुखी का खूबसूरत फूल खिल जाता है।

ब्रह्म मुहूर्त का समय क्या है? सुबह 4 बजे से लेकर 5.30 बजे तक का समय ब्रह्म मुहूर्त कहलाता है।

 

ब्रह्म मुहूर्त का महत्व (Importance of Brahma Muhurta)

Brahma Muhurta Benefits in Hindi

हमारी संस्कृति और प्राचीन ज्ञान प्रणालियों के अनुसार ब्रह्मा मुहूर्त पूरे दिन का सबसे महत्वपूर्ण समय होता है। जब आप ब्रह्म मुहूर्त में उठते हैं, तो आप तरोताजा महसूस करते हैं और आत्म-जागरूकता प्राप्त करते हैं जो आपको अपने आंतरिक स्व से गहरे स्तर पर जुड़ने की अनुमति देता है। आध्यात्मिक रूप से, इस समय सारणी का पालन करने की सलाह दी जाती है और यह आपके दिन को सकारात्मकता के साथ शुरू करने में भी मदद करता है। 

अगर आपने ध्यान दिया होगा तो देखा होगा हमारे बड़े बुजुर्ग सभी लोगों की जीवन शैली सुबह जल्दी शुरू होती है और रात में जल्दी ख़त्म। बच्चों की स्कूल भी प्रातः काल से आरम्भ हो जाती है, पशु पक्षी भी सूर्योदय होते ही चहकने लगते है। परन्तु ऐसा क्यों है? क्यों प्रकृति और समझदार लोग इस प्रकार चलते है? क्या देर सोना और उठना सिर्फ आज की पीढ़ी की दिक्कत है? क्या हमारे जीवन की कई परेशानियां इसी कारण से उत्पन्न हो रही है? स्वं विचार कीजिए।

चूंकि ब्रह्म मुहूर्त के दौरान कम से कम विकर्षण होते हैं, इसलिए किसी के लिए भी जीवन में उनके चरण के आधार पर महत्वपूर्ण चीजों को करने का यह सही समय है। छात्रों को अध्ययन करना चाहिए, काम करने वाले पेशेवरों को ध्यान करना चाहिए और धार्मिक लोगों को प्रार्थना करनी चाहिए।

आइये ब्रह्म मुहूर्त के फायदे (brahma muhurta benefits) के बारे में विस्तार में जानते है की हमारी ज़िन्दगी के किस किस पहलु में इसका लाभ होता है।

 

ऐसा और ज्ञान पाना चाहते हैं? यह भी पढ़ें फिर:

10 सबसे प्रमुख और शक्तिशाली रामायण के दोहे हिंदी में

स्वामी विवेकानंद के 9 अनमोल वचन जीवन में प्रेरणा के लिए

 

ब्रह्म मुहूर्त में उठने के फायदे (Brahma Muhurta Benefits)

आइये ब्रह्म मुहूर्त के फायदों को हम अलग अलग जीवन के हिस्सों के हिसाब से समझते है:

(A) ब्रह्मा मुहूर्त के स्वास्थ्य में फायदे

  1. आयुर्वेद के अनुसार ब्रह्म मुहूर्त के फायदे (brahma muhurta benefits) बहोत सारे है और उस समय जो हवा चलती है वो बहुत शुद्ध होती है। इस हवा में चाँद से मिलने वाले अमृत कण मिल जाते हैं और प्रदुषण रहित होता है। इस समय जल्दी उठकर चक्कर काटने जाने से हमारे शरीर को ये हवा छूती है जिससे हमारे शरीर में शक्ति का संचार हो जाता है और शरीर को बल मिलता है।
  2. इस समय चक्कर काटने से प्रकर्ति से व्यक्ति जुड़ता है और उसका मन शांत हो जाता है। मन शांत हो जाने से व्यक्ति का तनाव कम हो जाता है और उसका स्वास्थ्य सुधरने लगता है। ऐसा माना जाता है इस समय चलने वाली हवा से हम शारीरिक रूप से तो दुरुस्त होते हैं साथ ही मानसिक रूप से भी सुदृढ़ होते हैं। आयुर्वेद में इस समय को संजीविनी के सामान बताया गया है।
  3. इंटरनेशनल जर्नल ऑफ योग एंड एलाइड साइंसेज के अनुसार, ब्रह्म मुहूर्त में जागने से इम्युनिटी बढ़ती है, ऊर्जा स्तर बढ़ाता है, रक्त पीएच के संतुलन को बनाए रखने में मदद करता है, दर्द और ऐंठन से राहत दिलाता है और विटामिनों के अवशोषण को बढ़ाता है।

 

(B) ब्रह्मा मुहूर्त के धार्मिक और आध्यात्मिक फायदे

  1. धार्मिक ग्रंथो के अनुसार ब्रह्म मुहूर्त के फायदे (brahma muhurta benefits) यह है की ये वक्त ईश्वर से जुड़ने का सर्वोतम समय है। इस समय भगवान का ध्यान और पूजन करने से व्यक्ति की मनोकामना जल्दी पूर्ण होती है। इस समय में सभी भगवान के मंदिरों के पट खोल दिए जाते हैं और उनका श्रृंगार करके उनका पूजन किया जाता है। शास्त्रों के अनुसार जो लोग इस वक्त सोते हैं वो इस समय उठकर पूजा करके मिलने वाले पुण्यो से वंचित रह जाते हैं। आप जानकर हैरान होंगे की शास्त्रों में इस वक्त सोना पूर्णत: गलत बताया गया है।
  2. शास्त्रों के अनुसार ब्रह्म मुहूर्त में देवी देवता विचरण करते हैं और कई बार वो हमारे घरो में भी आते हैं। ऐसे में अगर घर के द्वार बंद हो तो वो बाहर से ही वापिस चले जाते हैं। भागवत गीता में उल्लेख हैं कि ब्रह्म मुहूर्त में जागने वाला व्यक्ति उन्नति करता है और वो हमेशा प्रसन्नचित रहता है।
  3. वास्तु अनुसार इस समय पूरे वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, ऐसे में अगर व्यक्ति सुबह जल्दी उठा है तो वातावरण की सकारात्मक ऊर्जा व्यक्ति को मिलती है। नियमित रूप से इस ऊर्जा के मिलने से व्यक्ति खुश रहता है, उसका जीवन के प्रति सकारात्मक रुख हो जाता है और वो अपने सभी काम ऊर्जा और उमंग से करता है जिससे उसके द्वारा किए गए सभी काम सफल होते हैं।

अब आपको ब्रह्म मुहूर्त के फायदे (brahma muhurta benefits) पता चल गए है तो चलिए अब जानते है ब्रम्हा मुहूर्त में जाप कैसे किया जाता है।

 

Download Paavan App

 

ब्रह्म मुहूर्त में मंत्र जाप कैसे करे?

ब्रह्म मुहूर्त में जाप करने का विशेष महत्व होता है और यह एक बहुत बड़ा ब्रह्म मुहूर्त के फायदे (brahma muhurta benefits) है। जैसा हमने आपको बताया की brahma muhurta time सुबह 4 बजे से लेकर 5.30 बजे तक का होता है, इस समय उठे और अपनी नित्य क्रियाओ को करने के बाद स्नान करे और साफ़ धुले हुए वस्त्र पहने। अब मंदिर में या जिस स्थान पर आपने देवी देवताओ को विराजमान किया है उसके सामने साफ आसान लगा ले।

अब दिया और अगरबत्ती जलाए और अपने इष्टदेव का ध्यान करके माला हाथ में और अपने माथे के बीच में ध्यान लगाते हुए मन में ईश्वर का जाप करे। अगर आप 45 मिनट या 1 घंटा जाप करते हैं तो आपको इस फल बहुत जल्दी मिलेगा।

एक बात का खास ध्यान रखे कि आप मन्त्र जाप सिर्फ एक या दो दिन या कुछ दिन न करे। इसे करने का एक नियम बना ले। रोज उसी समय और उसी तरह नियम से मंत्रो का जाप करे। अगर आपने लगातार तीन महीने तक भी ब्रह्म मुहूर्त पर जाप कर लिया तो आप जीवन भर आसानी से इस कार्य को कर पाएगे और जीवन भर मानसिक और शारीरिक रूप से स्वास्थ्य और प्रसन्न रहेंगे।

 

एक कहावत आपने अपने बड़ों से सुनी होगी जो सोवत है सो खोवत है, जो जगत है सो पावत है। वैज्ञानिकों और शास्त्रों के अनुसार बच्चों को 8 घंटे के नींद, बुजुर्गो को 4 घंटे की नींद और जवानों को 6 घंटी की नींद लेनी चाहिए। ऐसा भी माना गया है कि जो ज्यादा सोते हैं उनकी बुद्धि धीरे धीरे ख़राब होने लगती है और व्यक्ति जल्द ही भुलाने लगता है। जो व्यक्ति सुबह जल्दी उठे हैं वो तेज और बुद्धिमान होते हैं।

आप जानते हैं जानवर जैसे हाथी, घोडा सिर्फ कुछ घंटे ही सोते हैं लेकिन फिर दिर भर ऊर्जा से भरे रहते हैं। जो व्यक्ति जल्दी सोते हैं और जल्दी जागते हैं वो अकल्मन्द भी होते हैं और जीवन में सफल भी। ब्रह्म मुहूर्त को स्वयं की आत्मा के लिए कार्य करने का समय भी कहते हैं। सूर्योदय से 1 घंटा 36 मिनट पहले का समय ब्रह्म मुहूर्त होता है और इस ब्रह्म मुहूर्त के फायदे (brahma muhurta benefits) अनेक है।

ऋषि मुनियों और साधू संत इतने तंदुरुस्त होते हैं और उन्हें सभी धार्मिक ग्रन्थ कंठस्त होते हैं क्योकि वो सुबह ब्रह्म वेला में जागकर ध्यान करते हैं और धार्मिक ग्रथो को पढ़ते हैं। सुबह इस वक्त व्यायाम करने से व्यक्ति स्वास्थ्य रहता है। वैज्ञानिकों के अनुसार जो व्यक्ति ब्रह्म मुहूर्त में उठते हैं उनके मुकाबले सूर्योदय के बाद उठने वाले व्यक्तियों को ह्रदय रोग और ह्रदय घात का खतरा ज्यादा होता है।

हमे पूरी आशा है की ब्रह्म मुहूर्त के फायदे (brahma muhurta benefits) के बारे में जानने के बाद आप भी कल से brahma muhurta में जागने और पूजा पाठ, योग साधना आदि करने का प्रण लेंगे। अगर आप ब्रह्म मुहूर्त जाप करने का वीडियो देखना चाहते है तो आप पावन ऐप्प को डाउनलोड करे।

 

ऐसा और ज्ञान पाना चाहते हैं? यह भी पढ़ें फिर:

ऐसे और जानकारी पाने के लिए हमारे समाचार पत्रिका को सब्सक्राइब करे

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें

Top Posts