Paavan Logo
Khush Kaise Rahe
Share on whatsapp
Share on facebook
Share on telegram
Share on linkedin
Share on twitter

क्या आप हमेशा खुश रहना चाहते हैं? जानें 9 प्रभावी खुश रहने के उपाय

प्रत्येक व्यक्ति के मन में कभी न कभी यह विचार अवश्य ही आता है कि वह खुश कैसे रहे (khush kaise rahe) तथा ऐसा क्या किया जाए जिससे मन को खुशी मिले? परन्तु भागदौड़ भरे इस जीवन के कारण वह इसका सही उपाय ढूंढने में असमर्थ रहता है। समय की व्यस्तता के चलते खुशी कहीं गुम सी हो जाती है। आप खुश रहना भूल जाते हैं और सिर्फ व्यस्त रहते हैं।

एक अच्छा जीवन जीने के लिए खुश रहना बहुत आवश्यक होता है। यह सेहत के लिए तो आवश्यक होता ही है, साथ ही यह आपके दिमाग को भी स्वस्थ रखता है। आप खुश रहेंगे तो आपके रिश्ते, आपके कार्य, आपकी दिनचर्या सभी चीजें अच्छी तरह से पूर्ण हो सकेंगी और आपको एक सुकून भरी नींद भी आ सकेगी।

लोग कहते है कि जिसने खुश रहने के उपाय (khush kaise rahe) जान लिये उसने जीवन जीना सीख लिया। आपको बता दे कि खुश रहने के लिए आपको कोई कठिन कार्य भी नहीं करना होता है। आज इस लेख में हम खुश कैसे रहें (khush kaise rahe) इस बारे में बता रहे हैं जिससे आप जान सकेंगे कि आप अपने जीवन में खुश कैसे रह सकते हैं।

 

ख़ुशी क्यों है जरूरी?

हर किसी के जीवन में ख़ुशी बहुत महत्वपूर्ण होती है। यदि ख़ुशी नहीं रहती है तो आपका जीवन बेरंग और नीरस हो जायेगा। यदि आपके पास सब कुछ है जैसे – पैसा, अच्छी पोस्ट, अच्छा घर -परिवार आदि परन्तु यदि आपके जीवन में ख़ुशी नहीं है तो यह सब चीजें आपको बेकार लगेंगी। इसलिए जीवन में ख़ुशी बहुत मायने रखती है।

खुश कैसे रहें (khush kaise rahe) यह जानने से पहले आपको यह समझना भी जरूरी है कि आखिर ख़ुशी क्या होती है? ख़ुशी के मायने क्या होते है ? तभी आप अपनी ख़ुशी को आसानी से प्राप्त कर सकेंगे। चलिए जानते है आखिर खुशी का मतलब क्या होता है ?

 

ख़ुशी का मतलब क्या है?

ख़ुशी एक पॉजिटिव फीलिंग है। यदि मनुष्य खुश है तो वह जो भी कार्य करता है वह अच्छे से करता है। ख़ुशी के मायने हर किसी के लिए अलग अलग हो सकते है। जैसे किसी को पैसा मिलने से ख़ुशी मिलती है, तो किसी को उसका मन पसंद सामान मिलने से ख़ुशी प्राप्त होती है। कोई गिफ्ट पाकर खुश होता है, तो कोई परिवार से प्यार पाकर खुश हो जाता है।   

उदाहरण के तौर पर जब कोई मनुष्य किसी कार्य के बारे में सोचता है और वह पूरा हो जाता है, तो उसके हृदय में प्रसन्नता के भाव उत्पन्न होने लगते हैं। उसका चेहरा आनंद से खिल उठता है। इस मनोभाव को ही ख़ुशी कहते है। 

आइए जानें खुश कैसे रहें (khush kaise rahe), खुश रहने के लिए इंसान निम्न उपायों को अन्य सकता है।

 

Khush kaise rahe? खुश रहने के 9 प्रभावी उपाय

खुश कैसे रहें (khush kaise rahe) यह जानने के लिए खुश रहने के कुछ आसान उपाय बता रहे है जिसे आप अपने जीवन में सरलता से अपना सकते है। खुश रहने के उपाय बहुत सरल है, बस इसे अपनाने की जरूरत है।

1) सकारात्मक सोचें 

khush kaise rahe - Positive Thinking

यदि आप जानना चाहते है कि life me khush kaise rahe तो सबसे पहले आपको अपने अंदर सकारात्मक सोच रखना बहुत जरुरी है। यदि आप अपने मन में सकारात्मक सोच रखेंगे तो आप कोई भी काम ख़ुशी के साथ आसानी से कर सकते है। सकारात्मक सोच के साथ कार्य करने पर आपको प्रत्येक काम में ख़ुशी मिलती है। इसलिए कभी भी अपने मन में नेगेटिव विचारों का ना आने दे। ऐसा करने से आप हमेशा प्रसन्न रहेंगे और जीवन का सुख ख़ुशी ख़ुशी ले सकेंगे।  

 

ऐसा और ज्ञान पाना चाहते हैं? यह भी पढ़ें फिर:

ब्रह्म मुहूर्त की सम्पूर्ण जानकारी – अर्थ, समय, महत्व और फायदे

Surya Namaskar 12 Mantras

 

2) पर्याप्त नींद लें 

khush kaise rahe - sleep

हर व्यक्ति के लिए नींद पूर्ण होना बहुत आवश्यक होता है, यह शारीरिक रूप से तो लाभ देता ही है साथ ही यह मानसिक रूप से भी फायदेमंद होता है। यदि आपकी नींद पूरी नहीं होती है तो आप सुबह उठने के बाद आलस महसूस करते है साथ ही आपकी नींद अच्छे से न होने पर आप अपने अंदर चिड़चिड़ापन महसूस करेंगे, जिससे आपको गुस्सा भी जल्दी आ सकता है। यदि ऐसा होता है तो आप दिन भर किसी भी समय खुश नहीं रह सकते है। इसलिए यदि आप खुश रहना चाहते है, तो आपको 6 से 7 घंटे की पूर्ण नींद लेना चाहिए। इससे जब आप उठेंगे तो अपने अंदर पॉज़िटिव ऊर्जा रहेगी और आपका मन भी खुश रहेगा।   

 

3) परोपकार करें  

kaise khush rahe - Charity

पुराने ज़माने से ही हमारे बड़े बुजुर्ग कहते आये है कि हमें परोपकार करते रहना चाहिए। परोपकार करने से आप दूसरों की सहायता तो करते ही है, साथ ही इससे आपके मन को भी सुकून मिलता है और मन में प्रसन्नता के भाव आने लगते है। परोपकार करने से आपको ऐसी ख़ुशी मिलती है जिसे आप व्यक्त नहीं कर सकते। इसलिए अपने जीवन में यह नियम बना लें कि आपको जब भी मौका मिले आप दूसरों की सहायता अवश्य करें। आपको बता दें कि परोपकार में यह मायने नहीं रखता कि वह सहायता कैसी है, अपितु यह मायने रखता है कि इससे आपको कितनी खुशी मिलती है।  

 

Download Paavan App

 

4) व्यायाम को अपने दैनिक जीवन में शामिल करें  

Khush kaise rahe - Do Exercise

व्यायाम एक ऐसा तरीका होता है जो कि आपके शरीर को स्वस्थ बनाता है। साथ ही यह आपके दिमाग को भी तंदुरुस्त रखता है। यदि आपका दिमाग स्वथ्य रहेगा तो आप हमेशा खुश रहेंगे। व्यायाम शरीर में ऊर्जा का संचार करता है, जिससे मन प्रसन्न रहने लगता है। इसलिए अपने दैनिक क्रियाकलाप में व्यायाम को जरूर शामिल करें, यदि स्वस्थ रहेगा तन तो प्रसन्न रहेगा मन।  

 

5) अपने रुचि के कामों को चुनें

khush kaise rahe - Reading

यह देखा गया है कि जो व्यक्ति अपने रुचि के कार्यों को करता है वह उसे आसानी से प्रसन्न मन से कर पाता है और उसे ख़ुशी का अनुभव होता है। इसलिए आपको जो चीजें पसंद है उसके लिए थोड़ा समय निकालें और उसे करें, ऐसा करने से आपको ख़ुशी मिलेगी। 

 

6) पौष्टिक और संतुलित भोजन करें   

khush rehne ka tarika - nutritious food

अब आप सोच रहे होंगे कि भला भोजन से ख़ुशी कैसे मिल सकती है ? आखिर इससे खुश कैसे रहें (khush kaise rahe) ? तो आपको बता दें एक प्रसन्न मन का रास्ता मनुष्य के पेट से होकर गुजरता है। जी हाँ, यदि आप पौष्टिक और संतुलित भोजन करते हैं तो इससे आपका शरीर स्वस्थ रहेगा और शरीर के स्वस्थ रहने से आपका मन भी अपने आप खुश रहने लगेगा। 

 

7) दूसरों से अपनी तुलना करने से बचें

khush kaise rahe - dont compare yourself with others

खुश कैसे रहें (khush kaise rahe) यह जानना चाहते हैं तो आपको दूसरों से अपनी तुलना करना बंद करना होगा। ज्ञानी लोग कहते है कि कभी किसी से तुलना नहीं करनी चाहिए, तुलना करने से आप हतोत्साहित हो सकते है और फिर आपका मन किसी भी काम में नहीं लगेगा, इसलिए जितना हो सके दूसरों के साथ तुलना करने से बचे। इससे आपको ख़ुशी नहीं मिलेगी बल्कि निराशा ही मिलेगी। यदि अब खुश रहना चाहते है तो तुलना करना अभी से छोड़ दे और फिर देखे आपको ख़ुशी कैसे नहीं मिलती।   

 

8) कुछ नया सीखते रहें  

khush kaise raha jaaye - Keep Learning

अकसर ऐसा होता है कि हम एक ही काम को लगातार करते हुए बोर हो जाते है। फिर उस कार्य को करने में मन नहीं लगता लेकिन मजबूरी वश उस कार्य को करते रहते हैं, जिससे ख़ुशी भी नहीं मिलती। इसलिए हमेशा जब भी आपको थोड़ा सा समय मिले कुछ नया सीखते रहे। ऐसा करने से आपके अंदर आत्मविश्वास बढ़ेगा और आपको नए कार्य को करने में ख़ुशी भी मिलेगी। साथ ही आपको खुश कैसे रहें (khush kaise rahe) यह भी ज्ञात हो जायेगा।  

 

9) मुख पर रखे मुस्कराहट 

khush rehne ke tarike - smile

खुश कैसे रहें (khush kaise rahe) इसके लिए सदैव चेहरे पर मुस्कान बना कर रखे। यदि आप मुसकुराते रहेंगे तो आपके आसपास पॉसिटिव एनर्जी बनी रहेगी और आप हमेशा खुश रहेंगे।  

उपरोक्त उपाय से khush kaise rahe यह आपको समझ आ गया होगा। यदि आप khush kaise rahe के किसी भी उपाय को अपने जीवन में नियमित रूप से अपनाते है तो यकीन मानिये आप सदैव खुश रहेंगे। आपको खुश देखकर आपसे और लोग भी जुड़ना चाहेंगे, क्योंकि लोग भी उन्हीं लोगों के साथ रहना पसंद करते है जो हंसमुख होते है। खुश कैसे रहें (khush kaise rahe) यह जानने के बाद इसे अपने जीवन में अपनाये, साथ ही आप अपने हितैषियों को भी खुश रहने के लिए प्रेरित करें, ताकि आपके आसपास भी ख़ुशी का माहौल बन सके। 

 

Frequently Asked Questions

Question: ख़ुशी क्या होती है ?

ख़ुशी एक क्षणिक सुख होता है जो व्यक्ति को आनंद से भर देता है। इसे आप आंतरिक रूप में महसूस कर सकते है ।

Question: ख़ुशी का अर्थ क्या है ?

ख़ुशी अर्थात प्रसन्नता, हर्ष, उत्साह, आनंद, सुख आदि। 

 

ऐसा और ज्ञान पाना चाहते हैं? यह भी पढ़ें फिर:

सबसे बड़ा दान क्या है? यह है शास्त्रों अनुसार 7 नेक महादान

5 Yoga Benefits in Hindi   

 

ऐसे और जानकारी पाने के लिए हमारे समाचार पत्रिका को सब्सक्राइब करे

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें

Top Posts