जान ले चाणक्य नीति की ये बातें

पावन 

चाणक्य नीति की 10 बातें

पावन 

1.पहली बात 

पावन 

शरीर से सुंदर होनेवाली महिला आपको केवल एक रात ख़ुशी दे सकती है। लेखिन दिल से सुंदर होनेवाली महिला आपको जिंदगी भर सुख देती है। 

2.दूसरी बात 

पावन 

जरुरत से ज्यादा इनामदार होने की कोई जरुरत नहीं है। अत्यधिक इनामदार होना स्वास्थ के लिए अच्छा नहीं है। क्योंकि लोग सीधे पेड़ोंको पहले काटते है।

3.तीसरी बात

पावन 

बुरे लोगोंका मीठी बातों पर हमें कभी भी भरोसा न करना चाहिए। क्योंकि वो अपनी मूल स्वभाव को नहीं भूलते। बाघ हिंसा करना नहीं छोड़ता है।

4.चौथी बात 

पावन 

अगर सांप जहरीला ना हो तो भी आत्मरक्षा के लिए उसे जहरीला दिखाना जरुरी है।

5.पांचवी बात 

पावन 

दूध के साथ मिलकर पानी भी दूध बन जाता है। उसी तरह हम भी अच्छे लोगों साथ मिलकर अच्छे बन सकते है। इसलिए हमें अच्छे लोगोंके साथ दोस्ती करना चाहिए।

6.छटी बात 

पावन 

जो राजा अधर्म के रास्ते पर चलता है और अपने प्रजावों का खयाल नहीं रखता है, वो अपने  आप ही बर्बाद होता है। उसी तरह हमारे समाज और देश का खयाल न रखनेवाला व्यक्ति बर्बाद होता है।

7.सातवीं बात 

पावन 

आपका शरीर, आकार और सौंदर्य महत्वपूर्ण नहीं हैं। केवल आपकी क्षमता और आत्मविश्वास महत्वपूर्ण हैं।

8.आठवीं  बात 

पावन 

शिक्षा प्राप्त करना एक तपस्या की तरह है। इसलिए घर और माया का त्याग करना जरुरी है।

9.नौववी  बात 

पावन 

महिलाओं पर बुरी नजर रखनेवाला व्यक्ति कभी भी पवित्र नहीं हो सकता। वो खुद ही बर्बाद हो जायेगा।

10.दसवीं बात 

पावन 

जन्म से आनेवाली गुणों को नहीं बदला जा सकता। हालांकि, नीम के पेड़ पर दूध का अभिषेक करने पर नीम, नीम ही रहेगा। वह गुड़ नहीं बनेगा।

पावन 

 पूरी जानकारी के
 लिए निचे दिए लिंक
 पे क्लिक कीजिये