पावन 

कैसे होगा कलयुग 
का अंत ? 

हिंदू पौराणिक कथा

पावन 

कलियुग, हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार एक भयानक समय है | 

पावन 

यह एक जेल की तरह है जहां मनुष्य अपने पाप कर्मों के कारण पैदा होते हैं

पावन 

मानवीय संबंधों में प्यार और स्नेह नहीं बचेगा।

पावन 

कलियुग के अंत में, पापियों का
शासन होगा ईश्वर में कोई विश्वास
नहीं बचेगा ईश्वर और मनुष्यों के बीच अधिक दूरी होगी

पावन 

लोग छोटी-छोटी बातों पर मारने से नहीं
हिचकिचाएंगे कलियुग के चरम पर, क्रोध, वासना, अहंकार और भौतिकवादी चीजों की इच्छा को सर्वोच्च प्राथमिकता होगी

 आगे जानने के लिए 
निचे दिए लिंक पे क्लिक कीजिये